Smart Work - Hard Work

Smart Work – Hard Work In Hindi

अगर आप सफल होना चाहते हैं तो आपको कड़ी मेहनत (Hard Work) करने की आवश्यकता है। तो क्या Hard Work करना ही ठीक है या फिर Smart Work . इस सवाल का जबाब कि सफल होने के लिए क्या है जरूरी Smart Work या Hard Work , आपको इस पोस्ट में मिलेगा।

दोस्तों, इस बात से  इनकार नहीं किया जा सकता कि जितनी भी महान उपलब्धियाँ हुई हैं, उसका मुख्य आधार कड़ी मेहनत ही हैं जो इस बात को साबित करता है कि सफल होने के लिए Hard Work जरूरी है। पर क्या रिक्शा चलाने वाले, मज़दूरी करने वाले मज़दूर कड़ी मेहनत नहीं करते ? यकीनन वो बहुत मेहनत करते हैं। कड़ी सर्दी, गर्मी में भी वो जी तोड़ मेहनत करते हैं। पर इतनी मेहनत करने के बाद भी वो सफल हैं ? नहीं

दूसरी और एक कंपनी का मालिक, अपने ऑफिस में बैठा हुआ भी मेहनत करता है। उसे गर्मी सर्दी का अहसास नहीं होता वो सिर्फ ऑफिस में बैठकर दिशा निर्देश देता है, और वो सफल है। क्यों ? क्योंकि वो Smart Work करता हैं।

एक छात्र परीक्षा में अच्छे अंक पाने के लिए मेहनत करता हैं। वही दूसरी और एक अन्य छात्र Smart Work करता हैं, तो वे सामान्य छात्र के अपेक्षा तेजी से और कुशलता से पढाई कर सकता हैं और कम मेहनत करके बेहतर परिणाम प्राप्त करता हैं।

Smart Work Vs Hard Work

किसी भी फील्ड में सक्सेस होने के लिए यकीनन कड़ी मेहनत (Smart Work) करनी पड़ती हैं। हर कोई अपने लक्ष्य को पाने के लिए हर संभव प्रयास करता है। कुछ लोग यह सोचते हैं कि सबकुछ छोड़ कर अपना पूरा ध्यान अपने लक्ष्य पर केंद्रित कर देना चाहियें। हालाँकि यह काफी हद तक सही है, ऐसा करना चाहियें, पर स्मार्ट वर्क के द्वारा आप किसी भी काम को कम समय में, और बेहतर तरीके से कर सकते हैं।

Hard Work क्या है ?

किसी भी काम को पूरा करने के लिए, किसी काम में सफल होने के लिए कड़ी मेहनत करना ही Hard Work है।यदि एक मज़दूर पूरी मेहनत के साथ किसी भवन का निर्माण करता है तो यह उसके Hard Work के कारण हुआ है। यदि एक स्टूडेंट कड़ी मेहनत के साथ पढाई करता है, तो वह अच्छे अंक प्राप्त कर सकता है।

Hard Work शब्दकोष में एक ऐसी चीज़ है जो ‘Success ’ से पहले आती है। कठिन  परिश्रम  वो  कीमत  है  जो आपको सफलता  के  लिए  चुकानी  पड़ती  है.   मुझे  लगता  है  कि  यदि  आप  कीमत  चुकाने  को  तैयार  हों तो  आप  कुछ  भी  पा  सकते  हो। – विन्से लोम्बार्डी

Smart Work क्या है ?

Smart Work का मतलब यह नहीं है कि आप मेहनत न करें। Smart Work का मतलब है अपनी बौद्धिक क्षमता का प्रयोग करते हुए मेहनत करना, जिससे जल्दी और बेहतर परिणाम प्राप्त हो।

Hard Work + Intengligence = Success 

Hard Work के साथ Smart Work कैसे करें ?

एक मज़दूर पहाड़ियों को काट कर पत्थर निकलता है और उसे बेचता है जो बहुत ही मेहनत भरा काम है। इतनी मेहनत के बाद भी वो अपना  घर बड़ी मुश्किल से चला पाता है।

वही दूसरी और एक कारीगर जो उन पत्थरों को खरीदता है और उन पत्थरों से मूर्तियाँ बनाकर बेचता है। मज़दूर की अपेक्षा वो कम मेहनत करता है।  कम समय में अधिक काम कर लेता है और मज़दूर से कई गुना ज्यादा पैसा कमाता है।

वही तीसरा व्यक्ति जो उन मूर्तियों को खरीदता है। उन्हें रंगता है।  सजाता है और फिर बेचता है। उस मूर्ति बनाने वाले कारीगर की अपेक्षा वो कम समय में अधिक काम करता है और उस कारीगर से ज्यादा पैसा कमा लेता है।

वही एक चौथा व्यक्ति जो व्यापारी है, उन मूर्तियों को खरीदता है और बेचता है। यकीनन वो कम मेहनत और कम समय में कई गुना ज्यादा पैसा कमाता है।

मेहतन के बिना कुछ भी हासिल नहीं किया जा सकता। मेहनत एक ऐसी चीज़ है जो बहुत कीमती है पर मेहतन के साथ बौद्धिक कौशल और रचनात्मक सोच के द्वारा आप कम समय में अधिक लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

Smart Work को कभी भी Hard Work से अलग नहीं क्या जा सकता। लेकिन Smart Work आपके Hard Work को कई गुना बेहतर परिणाम दिलाता है।

यह वास्तव में कड़वा सच है की कुछ लोग कड़ी मेहनत करके भी सफल नहीं होते और कुछ लोग कम मेहनत करके, कम समय में सफल हो जाते है।

बहुत से लोग कड़ी मेहनत करते हैं, लेकिन कुछ ही वास्तव में सफल होते हैं। क्योंकि स्मार्ट काम वह है जो फर्क लाता है।अगर आप Hard Work करते है और इसके साथ Smart Work भी करते हैं जो आपको सफल  होने से कोई नहीं रोक सकता।

 Smart Work

मैंने कुछ सफल लोगो को नोटिस किया है ; कुछ Smart Work ऐसे है जो आपको सीखने पड़ते हैं, पर ज्यादातर लोग जो स्मार्ट काम कर रहे हैं वे इसे नहीं सीखते हैं। वे इसे सहज रूप से करते हैं, यह उनके चरित्र का हिस्सा है, और वो लोग सफल हैं। कुछ लोग ऐसे लोगों को भाग्यशाली कहते हैं।

याद रखें ; एक रचनात्मक समाज में, जहां दिमाग का सम्मान किया जाता है, शारीरिक काम का कम मूल्य होता है।

एक पहलवान जो कुश्ती लड़ता है, उसे शारारिक शक्ति की बहुत जरूरत होती है उसे अपने शरीर को बनाने के लिए बहुत मेहनत करने की आवश्यकता है, तो क्या वो हर कुश्ती जीत लेगा ? हाँ यदि वो ताकतवर शरीर बना लेता है तो कुश्ती जीत लेगा।

यदि उसका मुकाबला एक ऐसे पहलवान से हो जो ताकत में उसके बराबर हो, परन्तु कुश्ती के दाव पेंच उससे ज्यादा जनता हो तो क्या वो पहलवान अब भी मुकावला जीत लेगा। बिलकुल भी नहीं।

यदि आप कड़ी मेहनत (Hard Work) करते हैं और Hard Work की इसके साथ शामिल कर लेते हैं, तो न सिर्फ आप सफल होंगे बल्कि आप महान ऊंचाइयों को प्राप्त करेंगे और अपने आप को बेहतर जीवन की ओर ले जाएंगे।

यह भी पढ़ें –

दृण इच्छाशक्ति (Will Power) क्या है और इच्छा शक्ति कैसे बढ़ाएं ?

नकारात्मक विचारों से छुटकारा कैसे पायें ?

सफलता का दुश्मन है कम्फर्ट जोन !

‘ना’ कहना सीखें !

अपनी गलतियों से सीखें।

सकारात्मक मनोवृत्ति के साथ किसी भी चुनौती का सामना।

दोस्तों उम्मीद करता हूँ यह आर्टिकल “Smart Work या Hard Work सफल होने के लिए क्या है जरूरी ?” आपको पसंद आया होगा। Please Comment के द्वारा बतायें। आपके किसी भी प्रश्न एवं सुझावों का स्वागत है। कृपया Share करें और जुड़े रहने की लिए Subscribe करें. धन्यवाद

Hello friends, I am Mukesh, the founder of ZindagiWow.Com to know more about me please visit About Me Page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *