अपनी गलतियों से सीखें | Learn From Your Mistakes in Hindi

Learn From Your Mistakes in Hindi

Learn From Mistakes – दूसरों के गुणों से सीखो, और अपनी गलतियों से सीखो। ऐसा कोई नहीं है जिससे गलती न हों। अगर आप से कोई गलती नहीं हुई है तो आपने कुछ नया करने की कोशिश नहीं की है। कोई भी सफल व्यक्ति शुरुआत से ही हर समय सही नहीं रहा है। हर सफल व्यक्ति से गलती हुई है और वो इसलिए सफल हैं क्योंकि उन्होंने अपनी गलतियों से सीखा है।

आपका हर असफल प्रयास (Mistakes) आपको एक इम्पोरटेंट एक्सपीरियंस देकर जाता है। गलती करने पर हम उदास होते है, पर वास्तव में हम उस Mistake से सीख लेते हैं तो यह हमारे लिए एक उपहार जैसा हो जाता है।

अपनी गलतियों से सीखें | Learn From Your Mistakes in Hindi

रिचर्ड ब्रैनसन का कहना है “आप हमेशा  नियमों का पालन करके चलना नहीं सीखते।  आप कर के सीखते हैं, और गिरने से सीखते हैं। “

गलतिओं से सीखना एक बहुत बड़ा अनुभव है, यदि आप एक बार गलती करते हैं तो आप सचेत रह सकते हैं की आपसे इस तरह की गलती दुबारा न हो। आपकी सोच को  भी प्रोत्साहन मिलता है। आपके सोचने का दायरा बढ़ जाता है। आप सोच सकते हैं की यह गलती क्यों हुई और अब क्यों नहीं होगी।

अमेरिकी दार्शनिक ‘जॉन डूई कहते हैं’ “असफलता शिक्षाप्रद है। जो व्यक्ति वास्तव में इस बात को सोचता है वह अपनी असफलताओं से उतना ही सीखता है जितना अपनी सफलताओं से।”

एक छोटी से कहानी से जानते हैं की अपनी गलतियों से सीखें (Learn From Your Mistakes) और दूसरों के गुणों और दूसरों की गलतियों से सीखें।

एक व्यक्ति जिसने जीवन में बहुत गलतियां की और इस बात का उसे बहुत दुःख था कि वो अपनी गलतियों के कारण कभी सफल नहीं हो पाया।

यह भी पढ़ें : आपने क्या देखा ?

जब वो मंदिर से घर की तरफ जा रहा था तो उसे एक साधु मिले। साधु ने उसके चेहरे की परेशानी देखी और वो उसे रोकते हुए बोले “तुम क्यों परेशांन हो” उस आदमी ने साधु महाराज को सब कुछ बता दिया।

साधु बोले “इसका एक उपाय है “किसी ऐसे व्यक्ति को लेकर आओ जिसने तुमसे भी ज्यादा गलतियां की हों या किसी ऐसी  चीज़ को लेकर आयो जो बिलकुल बेकार हो। यह सुन वो व्यक्ति खोज में चला गया।

कुछ दूर जाने पर उसे एक कुत्ता मिला, वो इस कुत्ते को  ले जाने लगा, लेकिन कुत्ते में वफ़ादारी का गुण था।  वो और आगे बढ़ा। आगे जाने के बाद उसे कुछ कांटेदार झाड़ियां देखी। उसने सोचा यह चीज़ बेकार है यह लोगों के चुभ जाती है। लेकिन जब उसने सोचा यह तो खेत में बाड़ लगाने और फसलों की पशुओं से रक्षा करने के काम आती हैं। वो आगे बढ़ा लेकिन कोई भी ऐसा जीव या चीज़ नहीं मिली जो किसी भी काम की न हो।

यह भी पढ़ें : असंभव को संभव करने की कहानी

निराशा हाथ लेकर यह साधु के पास गया। तब साधु ने उसे बताया हर व्यक्ति और हर चीज़ में कोई न कोई अच्छाई होती है।  दूसरों के गुणों से सीखो और अपनी गलतियों से (Learn From Your Mistakes).

जब आप अपने किसी  लक्ष्य की तरफ बढ़ते हैं और गलतियां करते हैं तो आपके पास दो तरीके होते हैं या तो आप हार मानले और पीछे हट जाएँ या फिर अपनी गलती से सीखें और आगे बढ़ें। याद रखें गलतियां करना गलत नहीं हैं लेकिन उसे गलती से न सीखना और बार बार दोहराना आपकी सबसे बड़ी गलती है।

बचपन में जब आपसे कोई गलती होती थी और आपके टीचर जोरदार तमाचा आपके गाल पर रखते थे, तो शायद ही वो गलती आप दुवारा करते हों, क्योंकि तब आपको मालूम था की आपकी बार दो पड़ेंगे।

गलतियों से सीखने से आपको अपनी कमियों का पता चलता है। और जब आप अपनी कमियों का पता लगा लेते हैं तो आप उन्हें दूर भी कर लेते हैं।

मेरा एक दोस्त जॉब इंटरव्यू के लिए गया, हम सभी को उम्मीद थी वो सेलेक्ट हो जायेगा, पर वो सेलेक्ट नहीं हुआ, शाम तो जब हमारी बात हुई तो उसने बताया की क्या प्रश्न किये थे और उसने कैसे और इस तरह उत्तर दिया।

सभी जवाब उसने परफेक्ट तरीके से दिए थे पर वो बोलते समय अपनी आखें इधर उधर कर रहा था। उसने अपनी गलती पकड़ ली। उसने अपनी गलती को दूर किया और नेक्स्ट टाइम वो सेलेक्ट हो गया।

यह भी पढ़ें : फोकस के द्वारा सपनों को पूरा करें

दोस्तों उम्मीद करता हूँ यह आर्टिकल “अपनी गलतियों से सीखें | Learn From Your Mistakes in Hindi” आपको पसंद आया होगा। Please Comment के द्वारा बतायें। आपके किसी भी प्रश्न एवं सुझावों का स्वागत है। कृपया Share करें और जुड़े रहने की लिए Subscribe करें. धन्यवाद

2 Replies to “अपनी गलतियों से सीखें | Learn From Your Mistakes in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *