Self Confidence

How to Increase Your Self Confidence

आत्मविश्वाश (Confidence) एक ऐसा शब्द है जिसे सुनते ही एक शक्तिशाली भावना (Powerful Feeling) जाग्रत होती है। आप अपने उन पलों को याद करें, जब आपका आत्मविश्वाश कम हुआ हो जैसे ग्रुप में बोलते समय, इंटरव्यू के समय, किसी मंच पर बोलते समय।  जब आपका खुद पर विश्वाश नहीं होता है .

आत्मविश्वाश  ही आपको दूसरों से अलग  बनता है। जाने अपना आत्मविश्वाश (Self Confidence) बढ़ायें 7 Best Tips

क्यों होता है आत्मविश्वाश कम ? (Why Does Confidence Decrease ?)

हमारे Family, आस पास के लोग, दोस्त, सम्बन्धी आदि सभी का प्रभाव किसी न किसी रूप में हमारे आत्मविश्वाश (Confidence) पर पड़ता है।  वास्तव में ये एक मानसिक अनुभूति (Mental Cognition) है।  जब हमारे किसी भी काम पर या किसी भी Act पर कोई Negative प्रतिक्रिया की  जाती है तो हमारा अपने आप पर विश्वाश (Believe) कम होता जाता है और हमारा दिमाग ये मानने  लगता  है की ‘ये काम मैं नहीं कर सकता’।

ये भी पढ़ें – चेतन और अवचेतन मन क्या है और कैसे काम करता है?

हालाँकि जब आप किसी काम में सफल (Success) नहीं होते हैं तो Negative Comments तो मिलेंगे ही पर कुछ लोग इसे अपने मन में इस कदर बसा लेते हैं कि उनमे नकारात्मकता की भावना (Feeling of negativity) घर कर लेती है।  इसके विपरीत कुछ लोग कितनी ही असफलताओं (Failures) के बाद भी Negative Comments सुनते हुए भी उनको  दृण  विश्वाश  (Determination) रहता है की मैं सफल हो जाऊंगा ऐसे लोग ही Full of Confidence  होते हैं।

क्या आत्मविश्वाश बढ़ाया जा सकता है ? (Can be Confidence Increased ?)

कोई भी व्यक्ति चाहें वो शारारिक रूप से या मानसिक रूप से (Physically Or Mentally) अस्वस्थ (Unhealthy) है, शिक्षित  नहीं है, ज्ञानी नहीं है, सुन्दर नहीं है, कोई फर्क नहीं पड़ता।  अगर अभी आपका Confidence 0 है तो भी आप इसे 100% बढ़ा सकते हैं .

आत्मविश्वाश बढ़ाने के 10 तरीके (10 Ways to Increase Confidence)

1. तुलना न करें (Do’t Compare)

एक शर्ट (कमीज़) जरूरी नहीं है कि सभी लोगों को फिट आये तो जिनको वो शर्ट फिट नहीं आयेगी तो क्या वो शर्ट पहनना छोड़ देंगे।  दोस्तों, हमारी सबसे बड़ी गलती यही है हम अपनी तुलना (Compare) उन लोगों से करने लगते हैं जो किसी फलां चीज में माहिर हैं और अपना आत्मविश्वाश (Self Confidence) इसलिए खो देते हैं क्योंकि ये कर सकता है में क्यों नहीं कर पा रहा हूँ ।  क्या शाहरुख खान, सोनू निगम बन सकता है या सोनू निगम शाहरुख खान।  सोचिये !

2. अपने आप को उत्साहित करते रहें (Keep on Motivate yourself )

अगर आपने फिल्म ‘लगान’ नहीं देखीं है तो आपको जरूर देखना चाहिये, जिसमे भुवन (आमिर खान) में इतना आत्मविश्वाश (Self Confidence) है जिससे वो ब्रिटिश सरकार के उन अफसरों (Officers) को क्रिकेट (Cricket) में हरा देते है जो क्रिकेट में काफी अभ्यासरत और Professional थे।  जबकी भुवन और उसके साथियों के लिए क्रिकेट नया था इसके बाबजूत भुवन में कॉन्फिडेंस (Confidence) भरा हुआ था और वो अपने सभी साथियों को लगातार मोटीवेट (Motivate)  करते रहे और अंत में सभी के उत्साह, जोश से वो जीत गये। अगर भुवन अपने साथियों का कॉन्फिडेंस (Confidence) नहीं बढ़ाते तो क्या वो मैच जीत पाते ? सोचिये ! आपको शायद भुवन न मिले पर आप खुद अपने आप से ये कहकर की आप कर सकते हैं, आप करेंगे, सब आसान है, अपने आपको उत्साहित करते रहिये।

3. नई – नई कौशल सीखते रहें (Keep Learning New Skills )

हमेशा सीखते रहें, सीखना कभी बंद न करें इस बात की आदत बना लें, जिससे आपकी छमतायें बढ़ती रहेंगी और आपका कॉन्फिडेंस बढ़ता रहेगा।  दोस्तों कोई भी Perfect नहीं होता, लेकिन हम जितना सीखते हैं, Update होते जाते हैं, हमारा कॉन्फिडेंस लेबल (Confidence Level) बढ़ता जाता है।  आपको English नहीं आती, English सीखिये, उन खेलों को सीखिए जिनमे आपकी रुचि है और भी बहुत कुछ जो आपको अपडेट करे।  इन चीजों में आपको बिलकुल निपुण होने की जरूरत नहीं है बस सीखना ही आपके Confidence को बढ़ा देगा।

4. हिम्मत करो (Take Courage )

उन कामों को कीजिये जिनको करते वक्त आप घबराते (Nervous) हैं जैसे – स्टेज पर भाषण देना, किसी बड़े अफसर (जो ऊँचे पद पर हो)  से मिलना, किसी बड़ी पार्टी में जाना आदि।  हो सकता है शुरू में आप थोड़ा Uncomfortable महसूस करें पर अपने अंदर ये आवाज़ लगाएं (यानी अपने मन में बार-बार दोहराएं कि करना है तो करना है) जब आप थोड़ा थोड़ा प्रयास करते जायेंगे तो आपका आत्मविश्वास एक दिन इतना बढ़ जायेगा की आप स्वम चकित रह जायेंगें।

यह भी पढ़े – नकारात्मकता से छुटकारा पाने के लिए 31 सकारात्मक थॉट्स

5. गलतियाँ होने पर घबरायें नहीं (Don’t panic when you make mistakes)

अगर कोई इंसान है तो ऐसा हो ही नहीं सकता की उससे कोई गलती न हुई हो, अगर गलती न हुई हो तो वह इंसान नहीं है।  बड़े से बड़ा स्पीकर बोलते समय कुछ गलत भी बोल जाता है, और फ़ौरन अपनी गलती सुधार लेता है या कुछ हास्य तरीके (Humor) से उसे Ignore कर देता है और वापस उसी Confidence के साथ अपनी Speech Continue करता है। जब हम कोई काम सिर्फ इसलिए नहीं करते की शायद मुझसे गलती हो जाएगी ये बात हमारा कॉन्फिडेंस लूज़ (Confidence Loose) करती है और हम प्रयास भी नहीं करते। इसलिय इन बातों को छोड़ दें और जो करना है करें।  प्रयास करें !

6. मदद करने की आदत (The Habit of Helping Others)

कोई भी ऐसा काम जिसमे आप माहिर हैं या उस काम को जानते हैं, और कोई उस काम में आपकी मदत चाहता है तो जरूर करें। इससे आपको सम्मान भी बढ़ेगा और आत्मविश्वास (Confidence ) भी, और जो आप जानते हैं, उसमे भी आप और ज्यादा कॉंफिडेंट हो जायेंगे।

7. ड्रेसिंग सेंस (Dressing Sense)

आपके पहनावे (Dressing Sense) से भी आपके कॉन्फिडेंस (Confidence)  में फर्क पड़ता है . इसका मतलब ये बिल्कुल नहीं है की आप बहुत महंगे महंगे कपडे खरीदें, पर जब भी आप किसी प्रोग्राम, मीटिंग, पार्टी, सेमिनार आदि में जायें तो अपनी ड्रेस उसी According हो. आप महसूस करेंगे, जब आप अच्छी Dressing Sense का Use करते हैं तो आप खुद को Confident महसूस करते हो।

8 . समय का पालन (Time Punctuality)

किसी भी काम को उसके निर्धारित समय पर करना अथवा ठीक समय पर करना ही समय की पाबन्दी कहलाता है. हर काम को समय पर करने की आदत बनाइये, इससे आपका समय (Time) भी बेकार नहीं जायगा और आपमें कॉन्फिडेंस लेबल भी बढ़ जायेगा। Time Punctuality वाले लोग अपना कॉन्फिडेंस तो बढ़ाते है और साथ में दूसरों का विश्वास जीत लेते हैं ।

9 . व्यायाम और योग (Exercise & Yoga)

योग और व्यायाम आपके शरीर को स्वस्थ रखता है, आलास को दूर भागता है , एनर्जी देता है, और आप हमेशा पूरे जोश में और कॉंफिडेंट रहते हैं।

10 . किताबें पढ़े (Book Reading)

किताबें पढ़ने की आदत बना लीजिये, अच्छी किताबें पढ़ने से न केवल ज्ञान ही नहीं बढ़ता बल्कि व्यक्तित्व का विकास होता है और आपके सोचने समझने की शक्ति भी बढ़ जाती है। सकारात्मक सोच (Positive Thinking) बनती है और गज़ब का आत्मविश्वाश (Self Confidence) बनता है।

यह आर्टिकल “अपना आत्मविश्वाश (Self Confidence) बढ़ायें 7 Best Tips” आपको कैसा लगा, कृपया कमेंट कर अवश्य बतायें, आपके किसी भी प्रश्न एवं सुझावों का स्वागत है।जुड़े रहने की लिए Subscribe करें . धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *